नई दिल्ली, 2 फरवरी 2020, (आरएनआई )। गूगल ने आज एक शानदार डूडल बनाकर स्कॉटलैंड की मैरी समरविल को याद किया है। बता दें, गूगल समय-समय पर अपने डूडल की मदद से समाज में अपना अहम योगदान देने वाले महान लोगों को याद करता है। आज गूगल अपने डूडल के माध्यम से मैरी समरविल को याद कर रहा है।

इस डूडल में मैरी समरविल कुछ लिखते हुए नजर आ रही हैं। मैरी समरविल का जन्म-मैरी समरविल स्कॉटलैंड की रहने वाली एक प्रसिद्ध महिला वैज्ञानिक और खगोलशास्त्री थीं।

मैरी समरविल का जन्म 26 दिसंबर 1780 को हुआ था। मैरी समरविल वाइस-एडमिरल सर विलियम जॉर्ज फेयरफैक्स की बेटी थीं। उनका जन्म बॉर्डर के जेडबर्ग शहर में हुआ था। उनका बचपन का घर बर्नटिसलैंड, मुरली में था।

मैरी समरविल का योगदान- मैरी समरविल एक स्कॉटिश विज्ञान लेखक के साथ खगोलशास्त्री भी थीं। इन्होंने गणित और खगोल विज्ञान का अध्ययन किया, और कैरोलीन हर्शल के रूप में एक ही समय में रॉयल एस्ट्रोनॉमिकल सोसायटी की पहली महिला सदस्य नामित हुई।

2 फरवरी 1826 को फिजिक्स में किए गए उनके एक्सपेरिमेंट पेपर को यूके के सम्मानित नैशनल अकैडमी ऑफ साइंस The Royal Society of London ने पढ़ा था। मैरी पहली महिला थीं जिनका रिसर्च पेपर दुनिया के सबसे पुराने साइंस पब्लिकेशन Philosophical Transactions में पब्लिश किया गया। यह पब्लिकेशन आज भी ऐक्टिव है।