कोलकाता। भाजपा कि विजय यात्रा थम गई है। माकपा को वोंट देने का मतलब है कि यहां आरएसएस को ही जिताना। उक्त बात मटियाबुर्ज में एक चुनावी जनसभा को सम्बोधित करने पहुंचे युवा तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष व डायमण्ड हार्वर के तृणमूल प्रार्थी अभिषेक बनर्जी ने कही। अभिषेक बनर्जी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आपलोगों को जनता ने सत्ता प्रदान किया है लेकिन आपलोगों ने जनता को सिर्फ एक लड्डू दिया है। लोगों के पैसो से आपलोगों ने इतना भव्य पार्टी आफिस बनाया। जनता के पैसो को आपलोगों लूटा है ऐसे में साबित होता है कि चौकीदार ही चोर है। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आपलोग 42 सीटों पर जिताए ममता बनर्जी आपलोगों को एक नया भारत वर्ष देगी। अभिषेक ने आरोप लगाते हउए कहा कि इस देश की जनता को दिल्ली सरकार ने जीएसटी से लेकर नोटबंदी के नाम पर तबाह कर दिया। वहीं दिल्ली सरकार के कारण हा आटा से लेकर चीनी तक आमलोगों के उपयोग में आने वाली सामानों का दर आकाश चुम रहा है। ऐसे में इस सरकार को रहने का कोई औचित्य ही नही है। यह सरकार धर्म के नाम पर लोगों को बरगला रही है लेकिन याद रखे इस राज्य के लोगों को बुद्धु नहीं बनाया जा सकता है। याद रखे यह लड़ाई किसी पार्टी की नही है बरन यह लड़ाई साम्प्रदायिक मोदी व अग्नि कन्या ममता बनर्जी के बीच है।अब आपको ही तय करना है कि इस राज्य में क्या करना है। भाजपा तमाम राज्यो में मुंह के बल गिर गई है और यह सभी जानते है। इस राज्य में हम अमन शांति चाहते है। मुसलमान व हिंदू के नाम पर विभेद नही । इस दौरान स्थानीय विधाययक अब्दुल खालिक मोल्ला ने कहा कि अगर इस राज्य में शांति व विकास चाहते है तो ममता बनर्जी सरकार को मजबूत करना होगा। अगर ऐसा नही हुआ तो अनर्थ हो सकता है। इस दौरान तृणमूल नेता जलालुद्दीन अंसारी (बाबू) के नेतृत्व में सैंकडो़ं माकपा कर्मी ने तृणमूल का दामन थामा।