पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुलवामा हमले को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए कई सवाल खड़े किए। उन्‍होंने कहा कि चुनावों से ठीक पहले ही इस तरह का हमला क्‍यों हुआ. आगे उन्होंने कहा कि खुफिया रिपोर्ट होने के बाद भी सीआरपीएफ के इतने बड़े काफिले को एकसाथ क्यों भेजा गया। बनर्जी ने सवाल किया कि जवानों को एयरलिफ्ट क्यों नहीं किया गया? इसमें कितना पैसा खर्च हो जाता.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार को उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए जिन्होंने इस हमले को अंजाम दिया है. लेकिन अगर इस मौके पर बीजेपी-आरएसएस ने दंगे की कोशिश की तो देश माफ नहीं करेगा, मुख्यमंत्री ने अपना फोन टैप होने का आरोप भी लगाया।