152 Views

देश की जानी मानी पार्टी कांग्रेस की सियासत कुछ ठीक नहीं चल रही। गोवा में बागी हुए कांग्रेस के 10 विधायक बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं। सूबे में कांग्रेस के 15 विधायक हैं, जिसमें से 10 विधायकों ने कल विधानसभा अध्यक्ष राजेश पाटनेकर से मुलाकात करके बीजेपी में विलय की घोषणा की। आज सभी बागी विधायक बीजेपी अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे।

बीजेपी में विलय को लेकर गोवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष चंद्रकांत कावलेकर का कहना है कि गोवा में कांग्रेस के पूर्व सीएम पार्टी के लोगों को जोड़ कर नहीं रख पा रहे हैं। उनका कहना है कि, ‘’दो तिहाई बहुमत होने के बाद हम राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मिलने आए हैं। साल 2017 के चुनाव में दूसरी बड़ी पार्टी बनने के बाद भी कांग्रेस सरकार नहीं बना पाई। चंद्रकात कावलेकर ने आगे कहा कि वे जानते थे कि विपक्ष में रहकर वे अपने क्षेत्र का विकास नहीं कर पाऐंगे इसीलिए वे अपनी मर्ज़ी से बीजेपी में शामिल हुए हैं।

आपको बता दें कि गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के 17, कांग्रेस के 15, जीपीएफ के 3, एमजीपी का एक, एनसीपी के दो और 2 निर्दलीय विधायक हैं. कांग्रेस के 10 विधायकों के बीजेपी में विलय की घोषणा के बाद विधानसभा में बीजेपी विधायकों की संख्या 27 हो गई है. कांग्रेस के विधायकों के विलय के बाद विधानसभा में पार्टी विधायकों की संख्या मात्र पांच रह गई है।

वहीं, इस पूरे मामले पर राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है विपक्षी नेता के साथ 10 कांग्रेस विधायकों ने बीजेपी में विलय किया है। बीजेपी की ताकत अब बढ़कर 27 हो गई है। वे राज्य और अपने निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए हमारे साथ आए हैं। उन्होंने कोई शर्त नहीं रखी है, वे बिना शर्त बीजेपी में शामिल हुए हैं।