326 Views

नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ देशभर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को लेकर सुप्रीम कोर्ट चिंतित नज़र आ रहे हैं। मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे ने कहा कि देश कठिन समय से गुजर रहा है, शांति के लिए प्रयास होना चाहिए।

आपको बता दें कि पुनीत कौर ढांडा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करके उस पर जल्द सुनवाई की मांग की थी, याचिका में कहा गया है कि ‘झूठी अफवाहें’ फैलाने वाले एक्टिविस्ट, छात्रों, मीडिया हाउसों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। और CAA को ‘संवैधानिक’ घोषित करने की मांग की गई है। हालांकि इस पर सीजेआई ने कहा कि इस तरह की याचिकाएं मदद नहीं करती, जब हिंसा रुकेगी हम संवैधानिकता पर सुनवाई करेंगे।

साथ ही CJI बोबडे ने यह भी कहा कि हम कैसे घोषित कर सकते हैं कि संसद द्वारा पारित एक अधिनियम संवैधानिक है? हमेशा संवैधानिकता का ही अनुमान लगाया जाता है, यदि आप किसी समय कानून के छात्र रहे तो आपको पता होना चाहिए।