109 Views

मुंबई, 05 जनवरी 2020, (आरएनआई )। पूर्व वायुसेना प्रमुख बीएस धनोवा ने राफेल विमान सौदे को लेकर उठे विवादों पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि इस तरह के विवाद रक्षा सौदों को धीमा कर देते हैं। इससे सैन्य बलों की क्षमताओं पर असर पड़ता है।

पूर्व एयर चीफ मार्शल ने कहा कि बालाकोट हवाई हमले के बाद अगर विंग कमांडर अभिनंदन मिग 21 के बजाय राफेल उड़ा रहे होते, तो नतीजा कुछ अलग होता। आईआईटी बंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस मुद्दे पर एक अच्छा फैसला दिया। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार को क्लीन चिट दी थी।

पूर्व वायुसेना प्रमुख ने कहा कि जब राफेल जैसे मुद्दे उछाले जाएंगे। रक्षा खरीद प्रणाली को राजनीतिक रंग दिए जाएंगे तो पूरी प्रक्रिया पीछे छूट जाएगी। पूर्व वायुसेना प्रमुख ने इस बात का जिक्र किया कि बोफोर्स सौदा भी विवाद में रहा था, जबकि बोफोर्स तोप अच्छी रही हैं। उन्होंने कहा कि देश में ऐसी कई एजेंसियां हैं जो शिकायतें मिलने पर सौदों की जांच करती हैं।