91 Views

नई दिल्ली, 16 जनवरी 2020, (आरएनआई )। आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को अपना नामांकन का पर्चा भरा. पिछली बार की तरह इस बार भी वह पूर्वी दिल्ली की पड़पड़गंज विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं. इससे पहले पर्चा दाखिल करने जाते समय मनीष सिसोदिया ने पदयात्रा की.

नामांकन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा, हमें दो दिन के लिए तिहाड़ जेल और दिल्ली पुलिस पर नियंत्रण दे दो. निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटका दिया जाएगा.

निर्भया के फांसी को लेकर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि एक वरिष्ठ मंत्री को देश के सामने इतने बड़े मुद्दे पर झूठ बोलते देखना बहुत दुखद है. दिल्ली सरकार दोषियों को तत्काल प्रभाव से फांसी देना चाहती है. हमने पहले ही दया याचिका खारिज कर दी है. मै प्रकाश जावड़ेकर से पूछना चाहता हूं. क्या आपके अधिकार क्षेत्र में तिहाड़ जेल नहीं है? क्या दिल्ली पुलिस आपके अधिकार क्षेत्र में नहीं है? क्या कानून और व्यवस्था आपकी जिम्मेदारी नहीं है? कृपया संवेदनशील मुद्दे पर इतना कम न करें। यह लोगों को भड़काने का एक स्पष्ट प्रयास है.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि दिल्‍ली सरकार की लापरवाही के कारण वर्ष 2012 के दिल्‍ली गैंगरेप के दोषियों को फांसी देने में अब देर हो चुकी है. न्‍याय दिलाने में देरी के लिए आम आदमी जिम्‍मेदार है. केंद्रीय मंत्री ने केजरीवाल सरकार पर सवाल उठाते हुए पूछा कि पिछले ढाई वर्षों में दिल्‍ली सरकार ने दोषियों को दया याचिका दाखिल करने को लेकर नोटिस जारी क्‍यों नहीं किया?