जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद देश में काफी गुस्से का माहौल है, ऐसे में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के दोस्त और पंजाब सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू का बयान सामने आया है, उन्होंने कहा कि आतंकवाद का ना कोई मजहब, ना कोई जात, ना कोई पार्टी और ना ही कोई देश होता है।

सिद्धू ने कहा, जो भी इस घटना का जिम्मेदार है उसकी भरपाई होनी चाहिए। लेकिन कभी भी जान लेना मसले का हल नहीं बन सकता। आगे उन्होंने कहा कि आतंकवाद का ना कोई मजहब, ना कोई जात, ना कोई पार्टी और ना ही कोई देश होता है। ये एक कायरतापूर्ण हरकत है और मैं इसकी निंदा करता हूं।