2019  में होने वाले लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है,हर एक पार्टी ने चुनाव में उतरने के लिए अपनी कमर कस ली है,इसी बाच उत्तर प्रदेश की राजनिति ने एक नया रूप लिया जहां सपा और बसपा बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन में आ गई.इसी बीच समाजवादी पार्टी ने अपने उम्मीदवारो की सूची जारी की है, जिसमें अखिलेश यादव ने अपने पिता मुलायम सिंह की बात को दरकिनार करते हुए संभल सीट से अपर्णा को टिकट नहीं दिया है।

अपर्णा को टिकट न देकर अखिलेश ने संभल से शफीकुर्हमान बर्क को प्रत्याशी बनाया है।  अपको बताते चले की मुलायम सिंह यादव ने संभल सीट से अपर्णा को प्रत्याशी बनाने की बात कही थी। मुलायम सिंह यादव पहले भी कई बार कह चु्के हैं कि पार्टी में जब कोई फैसला लिया जाता है तो हमारी नहीं सुनी जाती है।

संभल सपा का गढ़ माना जाता है। यहां से खुद यादव कुनवे के लोग भी सांसद रह चुके हैं, इसी को ध्यान रखते हुए सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अपर्णा  यादव को टिकट की मांग की थी। संभल से दो बार मुलायम सिंह यादव भी लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं और एक बार सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव भी इस सीट से चुनाव जीत चुके हैं।