लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए कहा कि लोकसभा और विधानसभा, दोनों चुनावों की प्रकृति अलग-अलग है। 2017 में जिस जनता ने भाजपा को वोट दिया है, वे अभी से बेचैन हैं। लेकिन इसके बावजूद हमारी डगर कठिन है। लेकिन 2022 का लक्ष्य असंभव नहीं है। आप हम मिल कर कड़ी मेहनत करेंगे, तो निश्चित ही 2022 में फिर से हमारी वापसी होगी। अब हमें कुछ मुद्दों पर आक्रामक रवैया अपनाना होगा, तभी जनता में हमारी स्वीकार्यता बढ़ेगी।