लोकसभा चुनाव के आते आते राजनिति और ज्यादा गरमाती जा रही है, इसी बिच कोई भी पार्टी एक दूसरे पर वार करने पर भी बाज नहीं आ रही है जिस बिल काग्रेंस के सैम पित्रोदा ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए पुलवामा आतंकी हमले और उसके जवाब में भारतीय सर्जिकल स्ट्राइक पर सवालिया निशान खड़े किए।  उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत के नाम पर सिर्फ प्रचार हुआ है। प्रधानमंत्री खुद इस काम में अगुआ रहे। इसके साथ ही उन्होंने युवाओं के राजनीति में आने की वकालत करते हुए कहा कि मेरे जैसी उम्र के लोगों को अब पीछे हट जाना चाहिए। राहुल गांधी की बड़ाई करते हुए सैम पित्रोदा बोले, ऐसे पप्पू मुझे पसंद हैं।
सैम पित्रोदा ने आगे कहा कि मौजूदा सरकार अपने हर किए गए वादे में फैल हुई है। चाहे स्मार्ट सिटी का वादा हो या फिर,सरकार  के द्दारा रोजगार देने के मामले  हो, लेकिन सरकार हर किसी मेंनाकाम रही आज युवाओं के पास रोजगार नहीं है। ‘मिशन शक्ति’ पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि साइबर सिक्यूरिटी की भारत को भविष्य में बहुत जरूरत पड़ने वाली है। साइबर सुरक्षा के लिए लाखों लोगो को रोजगार भी देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि रोजगार सृजन के कई तरीके हैं। राजीव गांधी के समय हमने किसानों को सोयाबीन की खेती करने कहा। हम कई तरह के खाद्य तेलों को प्रोत्साहन देना चाहते थे, इसलिए कुछ खास कार्यक्रम शुरू किए गए। हालांकि राजीव गांधी की मृत्यु के बाद यह मिशन भी खत्म हो गया।