34 Views

सुल्तानपुर, 27 सितंबर 2019, (आरएनआई)। पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की आज एमपी एमएलए की विशेष अदालत में पेशी है। विशेष न्यायाधीश प्रशांत मिश्र ने पूर्व मंत्री को जिला कारागार लखनऊ से तलब किया है। आज पूर्व मंत्री की उन्मोचन अर्जी पर सुनवाई के लिए कार्यवाही नियत की गई है

मामला अमेठी कोतवाली क्षेत्र के स्थानीय कस्बे से जुड़ा है। जहां पर 28 जनवरी वर्ष 2012 की घटना बताते हुए तत्कालीन थाना प्रभारी अमरेंद्र नाथ बाजपेई ने पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति व साइकिल सवार उनके हजारों समर्थकों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में पुलिस ने पूर्व मंत्री के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया। केस की सुनवाई पहले न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में शुरू हुई।

हाईकोर्ट के निर्देशन में 29 अक्टूबर 2018 को संबंधित पत्रावली सुनवाई के लिए एमपी-एमएलए इलाहाबाद की विशेष अदालत में ट्रांसफर कर दी गई। बीते 4 सितंबर को पत्रावली इलाहाबाद की विशेष अदालत से सुनवाई के लिए जिला न्यायालय में विशेष अदालत का गठन कर फिर से ट्रांसफर कर दी गई। जिसके क्रम में एमपी- एमएलए की विशेष अदालत ने लखनऊ जेल में दुष्कर्म के केस में निरुद्ध पूर्व कैबिनेट मंत्री को आज की पेशी पर तलब किया है।

इस मामले में अभी पूर्व मंत्री की जमानत अर्जी पर सुनवाई भी नहीं हो सकी है। मामले में उनके अधिवक्ता के जरिए पुलिस की चार्जशीट पर सवाल उठाते हुए उसे निरस्त कर पूर्व मंत्री को उन्मोचित किये जाने की मांग की गई। अदालत के आदेश के अनुपालन में आज इन कार्यवाहियों पर सुनवाई होने की उम्मीद जताई जा रही है।