लखनऊ !  प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने समीक्षा बैठक के दौरान 2022 के विधानसभा चुनाव के सन्दर्भ में एक बड़ा फैसला लिया है. समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में अपेक्षित परिणाम इसलिए नहीं मिला, क्योंकि तीन महीने पुरानी हमारी पार्टी थी, हमें बीच में जाने का मौका नहीं मिला।

जनता भी हमें पूरी तरह समझ नहीं पाई, इसलिए उन्होंने हमें विकल्प के तौर पर स्वीकार नहीं किया . इसकी वजह से हमें हार का सामना करना पड़ा. इस समय हमें यह भी महसूस हुआ कि हमने जितने चुस्त-दुरुस्त संगठन की अपेक्षा की थी, उतना वह नहीं निकला।

इसलिए आगामी 6 महीने तक हम संगठन को चुस्त दुरुस्त करने का आप सभी को मौका दे रहे हैं. इसके तुरंत बाद हम विधान सभा की सभी सीटों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा कर देंगे . इस बीच हम समविचारी दलों के साथ गठबंधन की संभावनाओं की भी तलाश करेंगे, अगर विभिन्न दलों से गठबंधन हो जाता है, तो सीटों का न्यायोचित बंटवारा करके हम अपने प्रत्याशी घोषित कर देंगे . जिससे प्रत्याशियों के पास जनता के बीच में जाने का पर्याप्त समय और मौका रहे।