हैदरगढ़ बाराबंकी। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र त्रिवेदीगंज में शराबियों का अड्डा बन कर रह है, शराबियों का इस फड़ में अस्पताल के कर्मचारी व  डाक्टर ही नही बल्कि क्षेत्र के कुछ नामी गिरवी और प्रतिष्ठित लोग भी शामिल होते है अस्पताल का आलम यह हैं वहां पर तैनात डाक्टर व कुछ कर्मचारी मरीजों के ईलाज की बजाय शराबियों की आवाभगत में लगे रहते है। अस्पताल में यह सिलसिला शाम होते ही शुरू हो जाता है और देर रात तक चलता रहता है, इतना ही नही नशेड़ियों की इस फड़ में इमरजेंसी ड्यूटी करने वाले डाक्टर भी शामिल होते है और अपने कृत्य को अस्पताल आये मरीजो से छिपाने के लिए खुटखा, पान अथवा माउथ फ्रेशनर का सहारा लेकर सारी रात मरीजों की सेवा में तात्पर्य रहते है।  जब इस सम्बन्ध में त्रिवेदीगंज चिकित्सा अधीक्षक से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि अस्पताल में इस प्रकार का कोई बात नही है यदि मामला संज्ञान में आता है तो कार्यवाही की जायेगी।