कोलकाता/हुगली। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर राज्य में अपनी सभाओं में ममता सरकार पर हमला किया। उत्तर चौबीस परगना के बनगांव व हुगली के चुंचुड़ा में अमित शाह ने कहा कि बंगाल से घुसपैठियों को खदेड़ा ही जाएगा। हुगली लोकसभा केंद्र से भाजपा प्रत्याशी लॉकेट चटर्जी के समर्थन चुंचुड़ा में आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करने पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने स्पष्ट कर दिया कि भाजपा की सरकार आने पर बंगाल में भी एनआरसी लागू होगी. अमित शाह ने कहा कि शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी, लेकिन ममता बनर्जी के घुसपैठियों को छोड़ा नहीं जाएगा.

उन्होंने कहा कि मोदी जी के जीतने पर चिटफंड कांड के दोषियों को उल्टा लटका दिया जाएगा. किसी को नहीं छोड़ा जाएगा. उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल को ममता बनर्जी ने बम बनाने के कारखाने में तब्दील कर दिया है. बंगाल का मुख्य उद्योग अभी बम बनाना रह गया है. अमित शाह ने यह आशा व्यक्त की हुगली लोकसभा सीट से लॉकेट चटर्जी बड़े अंतर से विजयी होंगी. उन्होंने केंद्र सरकार की विभिन्न परियोजनाओं के बारे में लोगों को बताते हुए कहा कि आयुष्मान भारत सहित कई परियोजनाओं को ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने दिया है जिसके कारण यहां के लोग केंद्र सरकार की कई जनहितकारी योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रह गए हैं.

पुलवामा हमले को लेकर उन्होंने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष किया.अमित शाह ने साफ कहा कि नरेंद्र मोदी यदि द्वारा सत्ता में आते हैं तो कश्मीर से धारा 370 को हटा दिया जाएगा. अमित शाह के साथ इस दौरान मंच पर कैलाश विजवर्गीय, मुकुल रॉय लॉकेट चटर्जी, सुबीर नाग, रामकृत यादव सहित भाजपा के कई बड़े नेता मौजूद रहे.उत्तर चौबीस परगना में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक सभा में आरोप लगाया कि राज्यकी मुख्यमंत्री कश्मीर को देश से अलग करने की मंशा रखने वालों का साथ दे रही हैं। बनगांव संसदीय क्षेत्र में रैली को संबोधित करते हुए शाह ने दोहराया कि बीजेपी अगर दोबारा सत्ता में आई तो वह जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को खत्म कर देगी।

बीजेपी अध्यक्ष ने दावा किया, ‘बंगाल में आप हमें 30 सीटें दें और हम केन्द्र में बीजेपी की अगली सरकार बनते ही कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म कर देंगे।’ उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहे, इसके लिए बीजेपी लगातार लड़ाई जारी रखेगी। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि केन्द्र की सत्ता में कौन है। शाह ने कहा, ‘आज हम सत्ता में हैं, नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री हैं। आने वाले दिनों में भी वह प्रधानमंत्री बने रहेंगे। लेकिन अगर ऐसा दिन आया, जब बीजेपी सत्ता में नहीं होगी, उस दिन भी पार्टी के कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करने के लिए लड़ते रहेंगे कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहे।’

शाह ने इस बात पर भी जोर दिया कि ममता बनर्जी जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की, राज्य के लिए अलग प्रधानमंत्री संबंधी बात पर भी अपना रुख स्पष्ट करें। उन्होंने कहा, ‘ममता दीदी उनका साथ दे रही हैं, जो भारत को बांटना चाहते हैं। हम जानना चाहते हैं कि देश में दो प्रधानमंत्रियों की उमर अब्दुल्ला की मांग पर उनका क्या रुख है?’ घुसपैठियों को देश को खोखला करने वाली दीमक बताते हुए शाह ने कहा कि अगर भाजपा फिर से सत्ता में आई तो उन्हें देश से बाहर निकाल फेंकेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के शासन काल में बम बनाने की इकाइयों के अलावा और कोई फैक्ट्री नहीं लगी है।