मुजफ्फरपुर, 8 अप्रैल  | लोकसभा चुनाव 2019 के अखाड़े में वैशाली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सबसे युवा चेहरे के तौर पर निशांत कुमार माधव ने निर्दलीय ताल ठोका है। निशांत कुमार माधव ने बताया कि मेरी पहली प्रथमिकता होगी वर्षों से बंद पड़े चीनी मिल को चालू करने के लिए आवाज उठाना। उन्होंने ये भी कहा कि वैशाली लोकतंत्र की जननी है। लेकिन वैशाली लोकसभा क्षेत्र का जो विकास होना चाहिए था ओ आजतक किसी ने नही किया। और वैशाली लोकसभा क्षेत्र में 70% युवाओं की आबादी है। लेकिन युवाओं के हित मे किसी ने नही सोंचा। मैं जीतूंगा तो युवाओं का आवाज बुलंद करूँगा। और युवाओं में बढ़ती बेरोजगारी को जार से समाप्त करूँगा। अब देखना यह दिलचस्प होगा कि महागठबंधन के रघुवंश सिंह व एनडीए प्रत्यशी विणा देवी को कहा तक टक्कर दे सकते है। वहीं निशांत कुमार माधव ने बताया कि 19 तारीख को अपना नामांकन करेंगे।

वैशाली लोकसभा सीट का समीकरण

वैशाली सीट पर वोटरों की कुल संख्या है 1,278,891 इसमें से 681,119 पुरुष वोटर हैं जबकि 597,772 महिला वोटर हैं।

विधानसभा सीटों का समीकरण

वैशाली संसदीय सीट के तहत विधानसभा की 6 सीटें आती हैं- मीनापुर, कान्ति, बरुराज, पारु, साहेबगंज और वैशाली 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में इन 6 में से तीन सीटें आरजेडी के खाते में गई थीं। वहीं बीजेपी-जेडीयू और निर्दलीय उम्मीदवार एक-एक सीट पर जीतने में कामयाब रहे।