105 Views


पटना – नए ट्रैफिक नियमों को लेकर पटना पुलिस के रवैये पर लगातार सवाल उठने के बाद राजधानी पटना में वाहन चेकिंग अभियान को तत्काल रोक दिया गया है। प्रमंडलीय आयुक्त की अध्यक्षता में हुई अधिकारियों की बैठक में ये फैसला लिया गया। पुलिस फिलहाल जुर्माना लगाने के बजाय जागरूकता अभियान चलाएगी। प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर के दफ्तर में हुई बैठक में ये फैसला लिया गया। बैठक में पटना के DM और ट्रैफिक SP के अलावा तमाम अधिकारी मौजूद थे। बैठक में वाहन चेकिंग अभियान की समीक्षा की गई। अधिकारियों ने तत्काल वाहन चेकिंग अभियान को स्थगित करने का फैसला लिया गया। अधिकारियों ने पुलिस पर लग रहे आरोपों पर भी चर्चा की। राजधानी पटना में पुलिस फिलहाल वाहन चेकिंग के बजाय जागरूकता अभियान चलाएगी। लोगों को हेलमेट लगाकर चलने, सीट बेल्ट लगाने, वाहन का कागजात सही कराने के लिए जागरूक किया जाएगा। अधिकारियों ने लोगों को प्रदूषण सर्टिफिकेट मिलने में हो रही परेशानी पर भी विचार किया। इसे दूर करने के लिए तत्काल प्रदूषण नियंत्रण केंद्रों की संख्या बढ़ाने का भी फैसला लिया गया। राज्य सरकार जुर्माना घटाने पर विचार कर रही उधर परिवहन मंत्री संतोष निराला कह चुके हैं कि राज्य सरकार दूसरे राज्यों की तरह जुर्माना कम करने पर विचार कर रही है। गौरतलब है कि कई राज्यों ने नए ट्रैफिक नियमों के तहत लगने वाले जुर्माने को कम कर दिया है। झारखंड में भी तीन महीने तक चेकिंग पर लगी रोक। तीन महीने के बाद नियम लागू होगा।

http://www.rniindia.com/photos/fullimg/140920190433511568416092.jpg