उत्तरी कर्नाटक में एक रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा, ”मोदी मुझे समझाएं कि किसने मसूद अजहर को भारतीय जेल से पाकिस्तान भेजा.” जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी।

साथ ही बतायें कि वो बीजेपी की सरकार थी जिसने एक भारतीय जेल से जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को रिहा किया था।

आगे उन्होंने कहा कि ”मोदी के लिये मेरा एक छोटा सा सवाल है. सीआरपीएफ जवानों को किसने मारा? जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख का नाम क्या है? उसका नाम मसूद अजहर है।

उन्होंने कहा कि 1999 में बीजेपी की सरकार थी जिसने उसे भारतीय जेल से अफगानिस्तान के कांधार के रास्ते पाकिस्तान भेजा था।