136 Views

नई दिल्ली, 16 सितंबर 2019, (आरएनआई)। सुप्रीम कोर्ट में आज जम्मू-कश्मीर से जुड़ी 8 याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद की याचिका पर सुनवाई करते हुए मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई ने उन्हें श्रीनगर, बारामुला, अनंतनाग और जम्मू के दौरे पर जाने की इजाजत दे दी। साथ रंजन गोगोई ने ये भी कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो वे भी जम्मू-कश्मीर के दौरे पर जा सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट में आज कांग्रेस नेता और राज्यसभा में नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद की याचिका पर सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने दलीलें पेश कीं। इन दलीलों को सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने गुलाम नबी आजाद को श्रीनगर जाने की इजाजत देते हुए यह निर्देश भी दिया कि कांग्रेस नेता किसी राजनीतिक कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे और ना ही वहां कोई भाषण देंगे।

इसके अलावा सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि अगर जरूरी हुआ तो वे भी जम्मू-कश्मीर के दौरे पर जा सकते हैं। वहीं सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि गुलाम नबी आजाद 6 बार के सांसद हैं और पूर्व मुख्यमंत्री हैं फिर भी उनको श्रीनगर एयरपोर्ट से वापस भेज दिया गया।