236 Views

लखनऊ, 14 सितंबर 2019, (आरएनआई)। राज्य संपत्ति विभाग ने विक्रमादित्य मार्ग स्थित लोहिया ट्रस्ट का बंगला शुक्रवार को खाली करा लिया। लंबे समय से समय यह बंगला सपा के कब्जे में था। ट्रस्ट के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और सचिव शिवपाल सिंह यादव हैं। सपा मुखिया अखिलेश यादव समेत कई समाजवादी नेता ट्रस्ट के सदस्य हैं।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद राज्य संपत्ति विभाग ने लोहिया ट्रस्ट के नाम आवंटित विक्रमादित्य मार्ग के बंगले को खाली कराने का नोटिस दिया था। इसके बाद भी कई नोटिस दिए गए लेकिन बंगला खाली नहीं हुआ। इस पर लोहिया ट्रस्ट का कब्जा बना हुआ था। ट्रस्ट ने इसमें रखा सामान हटा लिया।

लोक प्रहरी की ओर से सेवानिवृत्त आईएएस एसएन शुक्ला ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके कहा था कि लोहिया ट्रस्ट समेत कई बंगले नियम विरुद्ध आवंटित किए गए हैं। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने ट्रस्ट व सोसाइटी के अनधिकृत बंगलों को चार माह में खाली कराने के लिए कहा था।

विक्रमादित्य मार्ग पर लोहिया ट्रस्ट के लिए बंगले का आवंटन एक जनवरी 2017 को नए एक्ट से किया गया था। आवंटन 10 साल के लिए किया गया जबकि संशोधित एक्ट के मुताबिक बंगले का आवंटन अधिकतम पांच साल के लिए ही किया जा सकता है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगले खाली करा लिए गए थे।

राज्य संपत्ति विभाग से लोहिया ट्रस्ट ने बंगला खाली करने के लिए वक्त देने की मांग की थी। आवंटन रद्द होने के बाद ट्रस्ट 70 हजार रुपये प्रतिमाह बंगले का किराया दे रहा था। यह किराया बाजार दर से वसूला जा रहा था।