लखनऊ !  पश्चिमी बंगाल की घटना से क्षुब्ध अखिलेश यादव ने देश के प्रधानमंत्री पर अभी तक सबसे बड़ा हमला बोला है . उन्होंने कहा कि प्रधान जी का शर्मनाक भाषण सुना क्या? “सवा सौ करोड़” देशवासियों का भरोसा खोकर अब वो बंगाल के 40 विधायकों के तथाकथित दल-बदल के अनैतिक भरोसे तक सिमट गये हैं. ये वो नहीं काले धन की मानसिकता बोल रही है।

इसके लिए उन पर 72 घंटे नहीं बल्कि 72 साल का बैन लगना चाहिए. उन्होंने कहा कि काले धन का उपयोग प्रधानमंत्री चुनाव के समय भी विभिन्न राज्यों की गैर भाजपा सरकारों को गिराने के लिए कर रहे हैं . इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर 72 घंटे नहीं, 72 वर्ष के प्रतिबन्ध की मांग की।