उत्तर प्रदेश: बुलंदशहर के छोटे से गांव के रहने वाले मुन्ना खालिद 19 से 22 मार्च तक भुवनेश्वर में शुरू होने वाले फोर्थ नेशनल पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप में दिल्ली का नेतृत्व करेंगे। दिल्ली पैरा स्पोर्ट्स एसोशिएशन ने  दिल्ली से 18 खिलाड़ियों का चयन किया गया है, जिसके कप्तान मुन्ना खालिद हैं।

आपको बता दें कि मुन्ना खालिद इससे पहले कई चैंपियनशिप जीत चुके हैं। जिसमें  2016 में दिल्ली एनसीआर चैंपियनशिप में जामिया के लिये गोल्ड मेडल भी जीत चुके हैं।

वहीं 2016 में हुए नेशनल चैंपियनशिप में दो कांस्य पदक  और 2018 और 2019 के बैडमिंटन चैंपियनशिप में क्वार्टरफाइनल खेल चूके हैं।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र रह चुके मुन्ना खालिद आज किसी भी पहचान के मोहताज नहीं हैं।

पैर से दिव्यांग मुन्ना खालिद  बचपन से ही खेल में रुची रखते हैं और बैडमिंटन के बेहतरीन खिलाड़ी हैं। अपनी शिक्षा और बैडमिंटन चैंपियनशिप के बीच कभी अपनी दिव्यांगता को दीवार नहीं बनने दिया।

बता दें कि मुन्ना खालिद एन.बी.सी.एफडी.सी., सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय में सहायक कार्यकारी के रूप में कार्यरत है।