216 Views

इंदौर, 05 जनवरी 2020, (आरएनआई )। मध्यप्रदेश के इंदौर में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित 350 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इन सभी पर धारा 144 का उल्लंघन करने और संभागीय आयुक्त आकाश त्रिपाठी के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के आरोप हैं। इसके अलावा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इंदौर में शनिवार को माचिस बांटी। जिसपर कैलाश विजयवर्गीय की फोटो छापकर लिखा गया था कि यह शहर में आग लगाने के काम आती है।

शनिवार को विधायक संजय शुक्ला, कार्यकारी शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस का कहना है कि विजयवर्गीय राज्य की शांति को भंग करना चाहते हैं। वे उत्तेजना फैलाकर प्रदेश शासन के खिलाफ विध्वंस की स्थिति पैदा करना चाह रहे हैं।

वहीं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने विजयवर्गीय पर तंज कसते हुए कहा कि कलाकारजी हताश और भटके हुए हैं। बचपन से ही उन्होंने हिंसा और नफरत का रास्ता सीखा है। जिसकी वह राजनीति करते हैं। जिस किसी ने कानून के खिलाफ कहा है उसपर कार्रवाई होनी चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे बयान के पीछे उनका कोई कसूर नहीं है। बचपन से उन्होंने जो सीखा है वही तो करेंगे। उन्होंने सीएए और एनआरसी को लेकर मोदी-शाह पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदीजी कुछ कह रहे हैं, अमित शाह कुछ कहते हैं। राष्ट्रपति के अभिभाषण में कुछ और बात कही जा रही है, भाजपा अध्यक्ष नड्डाजी कुछ और कह रहे हैं।