हरदोई, 27 मार्च  टिकट कटने से नाराज भाजपा के सांसद अंशुल वर्मा ने बगावती तेवर दिखाते हुए भाजपा प्रदेश कार्यालय पहुंच कर कार्यालय चौकीदार को इस्तीफा दे दिया।

इस्तीफा देने के बाद सांसद सपा नेता आजम खाँ की कार में बैठकर सपा पार्टी कार्यालय पहुंच गये। सांसद के सपा कार्यालय पहुंचते ही राजनैतिक गलियारों में सपा में शामिल होने के कयास लगने थे। आखिर कार सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेस कान्फ्रेंस कर सपा में शामिल होने की पुष्टि कर दी।

सपा का दामन थामें अंशुल वर्मा ने कहा कि मै सपा में आ गया हूँ सपा प्रमुख जहाँ चाहे मुझे लगा सकते है। अंशुल वर्मा का भाजपा छोड़ना जहाँ एक ओर भाजपा के भारी नुकसान माना जा रहा है वही सपा बसपा गठबन्धन को इस उथल पुथल से निश्चित रूप से राजनैतिक लाभ बढ जाने की सम्भावना से इन्कार नही किया जा सकता है।