पीलीभीत, 25 फरवरी 2020, (आरएनआई )। यूपी के पीलीभीत जिले में सुबह तड़के साधु बाबा की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई। घटना उस वक्त की है जब हर रोज की तरफ साधु अपने इष्ट देव हनुमान मंदिर की पूजा अर्चना कर रहा था उसी बीच दबंगों ने मंदिर के अंदर घुसकर धारदार हथियार से साधु बाबा की गला रेत कर उसे डंडे से मारपीट कर उसे मौत के घाट उतार दिया।

वहीं घटना की सूचना पर मौके पहुचे एएसपी सहित पुलिस बल डॉग स्क्वायड की टीम व फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट टीम ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि साधु बीते कुछ महीनों पहले से मंदिर में रहकर पूजा अर्चना करता था। जिसको लेकर पहले से मौजूद मंदिर के पुजारी ने घटना को अंजाम दिया है वहीं पुजारी परिवार सहित मौके से फरार है। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। बही जमीन पर खून से लथपथ पड़ा साधु बाबा का शव मौके पर मौजूद पुलिस व डॉग स्क्वायड तस्वीरें थाना बीसलपुर क्षेत्र के बाला जी महाराज के मंदिर की हैं।

घटना सुबह करीब 05 बजे की है जब हर रोज की तरह मंदिर में साधु पूजा करने गया हुआ था। उसी बीच मंदिर में घुसकर दबंगों ने साधु को धारदार हथियार से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। वहीं मंदिर में आये श्रद्धालुओं ने खून से लथपथ पुजारी का शव जमीन पर पड़ा देख घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर एएसपी रोहित मिश्र, सीओ बीसलपुर धर्मसिंह मार्छल सहित फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट टीम व डॉग स्क्वायड मामले की जांच में जुट गई है। वहीं पुलिस द्वारा स्थानीय लोगो से पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि मृतक साधु विष्णु सरन ब्रह्मचारी राजस्थान अजमेर का निवासी है।

जो बालाजी मंदिर ट्रस्ट के संचालक की अनुमति से बीते कई महीनों से थाना बीसलपुर क्षेत्र के बालाजी मंदिर में रहकर पूजा अर्चना करता था। जिसकी आज सुबह धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। वहीं दूसरा पुजारी अपने परिवार के साथ मौके से फरार है जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। कयास ये लगाया जा रहा है कि मंदिर की मठाधीशी के चलते दूसरे पुजारी ने ही हत्या की घटना को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर जल्द घटना के खुलासे की बात कर रही है।