126 Views

पुंछ, 19 सितंबर 2019, (आरएनआई)। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में भारतीय सेना ने 9 मोर्टार शेल को निष्क्रिय किया। यह सभी मोर्टार बालाकोट, बसोनी और संडोट गांव में निष्क्रिय किए गए। लगातार पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलाबारी में यह मोर्टार शेल भारतीय सीमा में आ रहे हैं।

यह मोर्टार शेल भारतीय सीमा में आने के बाद ब्लास्ट नहीं हुए थे और यह सक्रिय थे। जिन्हें भारतीय सेना ने गुरुवार को निष्क्रिय किया। यह सभी 9 मोर्टार शेल 120 एमएम के थे।

इससे पहले कठुआ जिले के हीरानगर में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) अशांत रही। पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन कर दो भारतीय अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया। इसके बाद दो मोर्टार दाग कर माहौल को बिगाड़ने की कोशिश की गई थी। पहला मोर्टार बीओपी मनियारी के नजदीक और दूसरा बीओपी सतपाल के पास जारी निर्माण कार्य को निशाना बनाकर दागा गया

पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर अपनी नापाक कोशिशों को अंजाम देने की फिराक में है। सेना के सूत्रों ने दावा किया है कि अगस्त के अंत में नियंत्रण रेखा पर बनी पाकिस्तानी चौकी के पास पाकिस्तानी सेना के एसएसजी कमांडो देखे गए थे। पुंछ जिले के केजी सेक्टर में पुलस्त नदी के पास अपनी पोस्ट के पास पाकिस्तानी सेना के एसएसजी कमांडो देखे गए। हालांकि उनकी गतिविधि पकड़ में आ गई और उन्हें वापस खदेड़ दिया गया। मौके से कुछ हाईटेक सामान मिले हैं। वहां से एक एक्शन कैमरा बरामद हुआ है, जिसमें ये पाकिस्तानी कमांडो नजर आ रहे हैं।