213 Views

कोलकाता। भारत और चीन के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है।वहीं अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन मसले पर बातचीत के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई है.ऐसे में राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने साफ कर दिया है कि बिचारधारा अलग हो सकते है लेकिन हमसब मिलकर देश के दुश्मनों से लड़ेगे।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि हम सब एक साथ मिलकर लड़ेंगे।तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि सर्वदलीय बैठक ठीक है, व्यावहारिक रूप से या तकनीकी रूप से यह गलत नहीं है। हमें अपने देश पर गर्व है, हम मिलकर लड़ेंगे।हमें अपने लोगों के साथ पूरी तरह से एकजुट हैं।

ममता बनर्जी का कहना है कि हम चाहते हैं कि हमारा देश तरक्की करे। हम नहीं चाहते कि हमारे देश पर हमला हो और हम चुपचाप बैठे रहें। दो पक्ष हैं, एक युद्ध है और दूसरा राजनयिक चैनल है। किस पक्ष का इस्तेमाल करना है, यह भारत सरकार तय करेगी।

चीन के साथ झड़प को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हम वास्तव में पीड़ित हैं। हमने बंगाल से अपने दो भाइयों को खो दिया है। हम अपनी सेना के साथ अपनी पूरी तरह से एकजुटता व्यक्त करते हैं.बता दें कि लद्दाख के गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प पर मोदी सरकार एक्शन में आ गई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में अलग-अलग पार्टियों के अध्यक्ष शामिल होंगे। इस बैठक में भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर चर्चा की जाएगी। बत दे कि

कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दोपहर 3 बजे से बैठक की थी। लेकिन बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसमें हिस्सा नहीं लिया। पीएम के साथ बैठक में बोलने के लिए बंगाल को टाइम स्लॉट नहीं दिए जाने को लेकर बंगाल सरकार ने मंगलवार को ही संकेत दे दिया था कि मुख्यमंत्री इसमें हिस्सा नहीं लेंगी।