मालदा। एक बार फिर राज्य में धमाके की घटना में पांच लोगों की बलि चढ़ गई है। पुलिस व स्थानीय लोगों के अनुसार आज मालदा जिले में घटी। यहां स्थित एक प्लास्टिक कारखाने में विस्फोट होने से पांच मजदूरों की मौत हो गई जबकि चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आज सुबह 11 बजे सुजापुर इलाके में स्थित कारखाने में धमाका हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘कारखाने में काम करने वाले पांच मजदूरों की मौत हो गई जबकि चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।’ उन्होंने बताया कि स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है।

उन्होंने बताया कि दमकलकर्मी आग बुझाने और मलबे में से जिंदा लोगों को बचाया। उन्होंने बताया कि जांच जारी है। मामले पर गृह सचिव अलपन बंदोपाध्याय ने बताया, ‘मृतकों के परिवारों को 2 लाख रुपये का मुआवजा जबकि घायलों को 50 हजार रुपये की राहत राशि दी जाएगी। खबर के लिखे जाने तक शहरी विकास मंत्री घटनास्थल पर पहुंच रहें थे। गृह विभाग ने एक बयान जारी कर कहा है कि मालदा के कारखाने में विस्फोट प्लास्टिक कारखाने दुर्घटना के कारण हुई है, जो निर्माण प्रक्रिया से जुड़ी है।

इसका अवैध बम के निर्माण से कोई लेना-देना नहीं है। इस घटना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुःख जताया है। बहरहाल प्लास्टिक कारखाने में विस्फोट कैसे हुआ, इसके बारे में अभी सरकारी तौर पर कुछ भी स्पष्ट नहीं बताया गया है। पुलिस और दमकल विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जांच के बाद ही यह स्पष्ट रूप से कहा जा सकेगा कि फैक्ट्री में विस्फोट कैसे हुआ। अधिकारियों ने कहा कि विस्फोट के कारणों की जांच की जा रही है। अभी पहली प्राथमिकता मलबे में दबे लोगों को बचाना है।