भोजपुर, 3 मार्च (आरएनआई) | असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत प्रधानमंत्री श्रम- योगी मानधन योजना 2019 का शुभारंभ माननीय प्रधानमंत्री के कर कमलों के द्वारा 5 मार्च को किया जाएगा। यद्यपि यह योजना पूरे देश में 15 फरवरी से लागू है। भोजपुर जिला में इस योजना के तहत वसुधा केंद्र पर 1042 श्रमिकों का निबंधन किया गया है ।श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार के तत्वावधान में शुरू की गई इस महत्वाकांक्षी कल्याणकारी योजना का भोजपुर जिले में 5 मार्च को विद्या भवन सभागार में समारोह पूर्वक शुरू किया जाएगा जिसमें माननीय मंत्री माननीय विधायक विधान पार्षद एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया है ।

भारत सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए सामाजिक सुरक्षा के तहत कल्याणकारी पेंशन योजना का दायरा बढ़ाया गया है। इस योजना के तहत 18 से 40 वर्ष आयु वर्ग एवं 15000 आय के असंगठित श्रमिकों को 60 वर्ष के बाद ₹3000 प्रति माह की दर से पेंशन देने का प्रावधान है। इसके लिए सरकार द्वारा उम्र के अनुसार श्रमिकों के अंशदान की राशि का निर्धारण किया गया है। जितनी राशि श्रमिकों के द्वारा अंशदान के रूप में दी जाएगी उतनी ही राशि सरकार द्वारा जमा की जाएगी। इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के कर्म कारों में रिक्शा चालक ,ठेला चालक, भूमिहीन श्रमिक ,चमड़ा कर्मकार, ईंट भट्ठा कर्मकार, कूड़ा बीनने वाले ,कुली आदि शामिल है।इन कर्म कारों को विद्या भवन में 5 मार्च के समारोह में शामिल किया जाएगा ।इस योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने का निर्देश श्रम अधीक्षक को दिया गया है।