100 Views

पुणे, 26 सितंबर 2019, (आरएनआई)। महाराष्ट्र के पुणें में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से हालात गंभीर हो गए हैं। भारी बारिश और बाढ़ ने पुणे जिले से जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया। बाढ़ के कारण 12 लोगों की मौत हो गई है।पुणे के अंबेगांव खुर्द इलाके से दमकस विभाग के अधिकारियों ने एक और शव को बरामद किया है। इससे पहले पुणे के जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने गुरुवार को पुणे शहर, पुरंदर, बारामती, भोर और हवेली तहसीलों के स्कूलों और कॉलेजों में छुट्टी की घोषणा की है।

अबतक बारिश से मरने वाले लोगों का आंकड़ा 11 तक पहुंच गया है। इसमें नगर क्षेत्र से 8 शवों को बरामद किया गया है जबकि 3 शवों को खेड़ शिवपुर में बरामद किया गया है।

इस बीच महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़नवीस ने भारी बारिश से हुए नुकसान पर कहा है कि वह पुणे और आसपास हुई भारी बारिश के कारण हुए जानमाल के नुकसान पर नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। हम हरसंभव मदद करने की कोशिश करेंगे।

इस बीच महाराष्ट्र के पुणे में भारी बारिश के कारण दीवार गिरने से एक बड़ा हादसा हो गया। इस दर्दनाक हादसे में अबतक 7 लोगों की मौत हो गई। सहकारनगर इलाके में बुधवार को एक दीवार गिरने की घटना में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य शव राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने गुरुवार सुबह सिंहगढ़ रोड के पास एक नहर में एक वाहन से पाया। मरने वाले सात लोगों में कम से कम एक बच्चा है।

पुणे में बाढ़ बचाव कार्यों के लिए एनडीआरएफ(राष्ट्रीय आपदा राहत बल) की तीन टीमों को तैनात किया गया है। कटराज, बारामती और निगम कार्यालय के पास एक-एक टीम तैनात की गई है। भारी बारिश के कारण बीती रात कतरास में एक दीवार ढह गई थी।

इस बीच पुणे के जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने पुणे शहर के पुरनार, बारामती, भोर और हवेली तहसील के सभी स्कूलों और कॉलेजों में आज छुट्टी की घोषणा की है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने गुरुवार को कहा कि बिहार, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अलग-अलग स्थानों पर आज भारी वर्षा होने की संभावना है। मौसम के पूर्वानुमान ने आगे बताया कि पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, कोलकाता और झारखंड के कुछ इलाकों में पूरे दिन भारी बारिश होने की संभावना है।

आईएमडी ने अपने अखिल भारतीय मौसम में कहा, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, गुजरात क्षेत्र, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण, गोवा, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, माहे और लक्षद्वीप में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा की संभावना है।