लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अपने दूसरे कार्यकाल में आज अपना पहला ‘मन की बात’ कार्यक्रम किया। उनका यह कार्यक्रम लगभग चार महीने बाद हुआ है। जिसमें उन्होंने जल संकट की समस्या से निपटने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें भारत के लोगों पर हमेशा से विश्वास था कि वे उन्हें एक बार फिर वापस लाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश में पानी की कमी को देखते हुए देशवासियों से जल संरक्षण के लिए जन आंदोलन शुरू करने का आह्वान करते हुए कहा कि इसके लिए पारंपरिक तौर तरीकों पर जोर दिया जाना चाहिए।