हुगली। दीदी का गुस्सा सातवें आसमान पर है।पहले यह लोग मुझे और भाजपा को गाली देते थें अब इनका गुस्सा ईबीएम पर निकल रहा है। दीदी के कार्यकर्ता अब उनके करीब नही जाते है कारण पता नही कब दीदी उन्हें थप्पड़ मार दे। उक्त बात आज हुगली जिले को श्रीरामपुर में एक चुनावी सभा में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कही। पीएम मोदी ने कहा कि मै उनसे कहना चाहुंगा की दीदी लोकतंत्र ने ही आपको यह पद दिया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। पीएम ने कहा कि चुनाव के बाद तृणमूल के कई विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं।

उन्होंने दावा किया तृणमूल के 40 विधायक भाजपा के संपर्क में हैं। पीएम मोदी का यह बयान बंगाल की राजनीति में काफी उथल-पुथल पैदा कर सकता है। पीएम ने ममता बनर्जी के उस बयान पर भी प्रतिक्रिया दी, जिसमें सीएम ने मोदी को कंकड़ वाला रसगुल्ला खिलाने की बात कही थी। मोदी ने कहा कि जिस देश की मिट्टी में बड़े-बड़े महापुरुषों ने जन्म लिया, वहां का कंकड़ वाला रसगुल्ला भी मेरे लिए प्रसाद की तरह होगा। उन्होंने कहा कि दीदी मैं आपका बहुत आभारी हूं। आप जितने भी रसगुल्ले बनाकर भेजोगी, उसमें जितने 50-100 पत्थर आएंगे और जो पत्थर आपके गुंडे निर्दोष नागरिकों को मारने के लिए इस्तेमाल करते हैं। वो पत्थर भी मुझे भेजेंगी, जिससे यहां के नागरिकों मत्थे फूटने से बच जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि दीदी आपने विश्वासघात किया है और इस विश्वासघात की कीमत यहां का नौजवान लेकर रहेगा।

दीदी आपकी जमीन खिसक चुकी है और देख लेना 23 मई को जब नतीजे आएंगे तो आपके विधायक भी आपको छोड़कर भाग जाएंगे। आज भी आपके 40 विधायक मेरे संपर्क में हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को पश्चिम बंगाल के श्रीरामपुर में तृणमूल कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उनके मुताबिक, टीएमसी के गुंडे लोगों को मतदान करने से रोकने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला कर रहे हैं, वे भाजपा नेताओं को प्रचार करने नहीं दे रहे हैं। मोदी ने कहा कि टीएमसी के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं। मोदी ने कहा कि 23 मई को जब नतीजे आएंगे, हर जगह कमल खिल जाएगा और आपके विधायक आपको छोड़ देंगे। इसके बाद पीएम मोदी की उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर के भाटपाड़ा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत कांकीनाड़ा के जलेबी मैदान में जनसभा होगी। मोदी ने साथ ही तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी पर भाई-भतीजावाद करने का आरोप लगाया और इस बात पर जोर दिया कि वह अपने भतीजे को बंगाल में राजनीतिक रूप से स्थापित करना चाहती हैं।

मोदी ने बनर्जी पर प्रधानमंत्री पद की उनकी महत्वाकांक्षा को लेकर भी निशाना साधा और कहा, ‘दीदी, दिल्ली दूर है।’ मोदी ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाने के लिए विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वी उन्हें बुरा भला कहने से आगे बढ़ गये हैं और अब ईवीएम की आलोचना कर रहे हैं. विपक्ष ऐसा इसलिए कर रहा है क्योंकि वह आसन्न हार का सामना कर रहे हैं.। गौरतलब है कि मोदी ने 24 अप्रैल को भी बंगाल में दो जनसभाओं को संबोधित किया था। एक सभा वीरभूम के बोलपुर और दूसरी नदिया जिले के रानाघाट में हुई थी। पीएम मोदी का बंगाल में लगातार दौरा जारी है। इस बार भाजपा ने पश्चिम बंगाल से 23 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। लक्ष्य पाने के लिए पार्टी पूरी कोशिश में जुटी हुई है। जनसमर्थन जुटाने के लिए भाजपा की तरफ से जमकर प्रचार किया जा रहा है।