कोलकाता। किसी भी हाल में हमे लोकसभा की 42 सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी। हमे किसी के लिये कोई भी सीट नहीं छोड़ना है। हर हालात में राज्य की लोग सभा की सभी सीटे हमारी होनी चाहिए। उक्त बात आज राज्य की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नजरुल मंच में पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में दो टूक शब्दों में कहा। उन्होंने साफ कहा कि अपना दम खम लगा कर पार्टी नेताओं को राज्य की सभी 42 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी। साथ ही उन्होंने पार्टी से हर हाल में गुटबाजी खत्म करने और संगठन की प्रत्येक इकाई में समन्वय बनाने का भी निर्देश दिया।

बैठक में पार्टी के सदस्यों को‌ संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता भगवा पहनकर भी अपने पाप को नहीं धो सकते। आरोप लगाया कि भाजपा सांप्रदायिक सद्भाव को नष्ट कर रही है। ममता ने भाजपा नेताओं के तिलक लगाने और आरती करने पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने पार्टी नेताओं से कहा कि तृणमूल कांग्रेस को आगामी लोकसभा चुनाव में बंगाल की सभी 42 लोकसभा सीटें जीतनी चाहिए। ममता ने कहा कि जब मैं कह रही हूं कि हमें 42 में से 42 की आवश्यकता है, तो इसका मतलब है कि आपको इसे सच करके दिखाना होगा। लोकसभा चुनाव से पहले राज्य में कांग्रेस और माकपा के संभावित गठबंधन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि आप दूसरी पार्टियों की चिंता मत कीजिए। कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों को जो करना है, करने दीजिए।

उन्होंने कहा कि इससे पहले के चुनाव में भाजपा, माकपा और कांग्रेस तीनों एकसाथ मिलकर तृणमूल के खिलाफ लड़े थे और कोई लाभ नहीं हुआ था। इस बार आप सभी को यह ध्यान रखना होगा कि राज्य की सभी 42 लोकसभा सीटें जीतनी हैं और इसे हर हाल में पूरा करने की जिम्मेदारी हम सभी की है। ममता बनर्जी ने कहा कि आज राज्य का नाम चारो ओर गूंज रहा है। हम विकास की राह पर अग्रसर हैं और हमे रोकने की पुरजोर कोशिश हो रही है।

लेकिन रोकने वाले नाकाम हो रहे है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार को पुलवामा हमले के बारे में खुफिया सूचनाएं थी लेकिन उसने कोई कदम नहीं उठाया क्योंकि वह जवानों की शहादत पर राजनीति करना चाहती है। ममता बनर्जी ने आगामी आम चुनाव में ‘तानाशाही वाली नरेंद्र मोदी सरकार’ को सत्ता से हटाने का संकल्प किया। उन्होंने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस चुनाव में पश्चिम बंगाल में लोकसभा की सभी 42 सीटों पर चुनाव जीतेगी।