मुजफ्फरपुर, 21 जून (आरएनआई) | बिहार के सूचना जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार ने बातचीत के क्रम में बताया कि बिहार सरकार पत्रकार बीमा योजना का दायरा जुलाई से बढ़ाने जा रही हैं और इसमें पत्रकारों के परिजनों को भी शामिल करने की योजना है विज्ञापन नीति के संदर्भ में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि वे इसका अवलोकन कर रहे हैं जहां पर संशोधन की जरूरत होगी वह इस पर विचार करेंगे, बिहार से प्रकाशित पत्र पत्रिकाएं के संरक्षण और संवर्धन के सवाल पर उन्होंने कहा की वह विज्ञापन नियमावली के तहत हर संभव मदद करेंगे सोशल मीडिया को नियंत्रित करने के सवाल पर कहा कि राज्य सरकार का दायरा सीमित है. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि दारू बंदी के बावजूद बिहार में आने वाले पर्यटकों की तादाद बढ़ी है राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति बेहतर है सड़क सुरक्षा बिजली पानी स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य सरकार ने काफी बेहतर कार्य किए है.

मुजफ्फरपुर में फैले चमकी बुखार के सवाल पर उन्होंने कहा कि जो लोग ज्ञान बांट रहे है उन्ही से ही पूछना चाहते हैं की इस बीमारी का असली वजह क्या है. कारण और निवारण अगर आपके पास है तो बताइए हम लोग उस पर अमल करेंगे राज्य सरकार अपने स्तर से इस बीमारी के जड़ को तलाशने में लगी है काफी हद तक सफलता भी मिली. उन्होंने कहा कि आज की तारीख में पत्रकार ही सबसे ज्यादा असुरक्षित है निजी क्षेत्रों के अधीन मीडिया हाउसो मे कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर पत्रकारों की नियुक्ति की गई है. श्रम कानूनों का खुलेआम उल्लंघन होता है उनको वाजिब मेहनताना नहीं मिल पाता कई सारे आयोग बने उनके अनुशंसा भी मीडिया मालिकों की बेरुखी के कारण लागू नहीं हो पाए दूसरों के लिए दिन-रात लड़ने वाले पत्रकार खुद नौकरी को लेकर असुरक्षित है.

राज्य सरकार पत्रकारों को उनका वाजिब हक दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करेंगी. साथ ही साथ राज्य में उनकी सुरक्षा भी सुनिश्चित करेगी. प्रेस क्लब के सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार की राजधानी पटना समेत राज्य के सभी जिलों में राज्य सरकार ने प्रेस क्लब का निर्माण कराया अभी इसे संचालित करना पत्रकारों का काम है. पटना के प्रेस क्लब के संदर्भ में उन्होंने कहा कि पत्रकारों में इतनी गुटबाजी है कि कई सारे समूह बन गए है सरकारी हस्तक्षेप नहीं कर सकती आपसी समन्वय से प्रेस क्लब का सुचारू रूप से संचालन करना पत्रकारों का काम है.

(अनूप नारायण सिंह की रिपोर्ट)