49 Views

लखनऊ, (आरएनआई)। पत्रकार हितो के संघर्ष क्रम मे उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े पत्रकार संगठन यूपी जर्नलिस्ट एसोसिएशन उपजा के प्रदेश नेतृत्व के आवाह्न पर संगठन के प्रदेश कार्यकारिणी व जिला कार्यकारिणी के पदाधिकारियों व सदस्यों की ओर से लखनऊ के हजरतगंज स्थित अम्बेडकर पार्क में शांतिपूर्ण धरने का आयोजन कर ज्ञापन सौंपा गया।

पत्रकारों पर हो रहे आये दिनों हमले व निष्पक्ष खबरों के प्रकाशन पर दर्ज हो रहे एफ आई आर के साथ पत्रकार हितों के तमाम बिंदु भी इस धरना प्रदर्शन के ज्ञापन मे शामिल रहा।

विभिन्न जनपदों में शासन द्वारा खबर लिखने अथवा दिखाने पर उत्पीड़न, देश के अन्य राज्यों की तरह पत्रकार सुरक्षा कानून बनाये जाने की मांग, देश के विभिन्न राज्यों की ही तरह 60 वर्ष के ऊपर वरिष्ठ पत्रकारों को पेंशन योजना के तहत 15 हजार रूपए प्रतिमाह पेंशन, प्रदेश के विभिन्न जनपदों में रियायती दर पर भूखण्ड/भवन उपलब्ध कराना और राज्य मुख्यालय की तरह विभिन्न जनपदों में निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने समेत पत्रकारों पर दर्ज हुए मुकदमे की उच्चस्तरीय जांच कराकर मामले को निस्तारित करने की मांग की गई।

शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित, प्रान्तीय कोषाध्यक्ष संतोष यादव, प्रदेशमंत्री श्याम चन्द्र श्रीवास्तव, एन यू जे आई सदस्य पूर्व प्रदेशकोषाध्यक्ष अनिल अग्रवाल, संरक्षक मण्डल के प्रमोद गोस्वामी, अजय कुमार, वीर विक्रम बहादुर मिश्र, प्रदेश उपाध्यक्ष शिव मनोहर पाण्डेय, सर्वेश सिंह, प्रदेश संगठन मंत्री सन्तोष भगवन, प्रदेशमंत्री हरीश सैनी, रत्नाकर मौर्य, वाराणसी इकाई के जिलाध्यक्ष व प्रदेश उपाध्यक्ष डाँअरविंद सिंह, चन्दौली जिलाध्यक्ष दीपक सिंह, सरदार महेंद्र सिंह,सुल्तानपुर इकाई के जिलाध्यक्ष अनिल द्विवेदी उपाध्यक्ष अनुराग द्विवेदी, मनोज शर्मा, निसार अहमद , महामंत्री इन्द्रनारायण तिवारी, सुधा सिंह, महेश नारायण द्विवेदी, घनश्याम मिश्रा, दीपक श्रीवास्तव, विकास श्रीवास्तव, गंगा यादव, राकेश तिवारी, पंकज पाण्डेय, बृजेश श्रीवास्तव ,विजय गिरि, दुर्गेश तिवारी, डॉ धर्मेन्द्र कुमार तिवारी, महेश चंद्र, इंद्र बहादुर सिंह समेत उपजा सुलतानपुर के सैकड़ों पत्रकार मौजूद रहे।

प्रतिकूल मौसम भीषण बरसात में भी अडिग व लक्ष्य तक पहुंचने वाले पत्रकारो के प्रान्तीय अध्यक्ष रतन दीक्षित ने मौजूद पत्रकार साथियों का अभिवादन किया और कहा कि हम सब कठिन परिस्थितियों में दूर दूर से आकर हमारे साथियों ने यह साबित कर दिखाया है कि हम कभी भी सही राह में चलने से पीछे नही रहेंगे।