लोकसभा चुनाव 2019 का एलान हो चुका है। चुनाव आयोग ने रविवार शाम को लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी। चुनाव सात चरणों में होंगे और 23 मई को नतीजे आएंगे। ऐसे में आगामी चुनाव में जीत हासिल करने के लिए सभी पार्टियां ने अपनी कमर कस ली है, एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में कोई भी पार्टी किसी से पीछे नहीं रहना चाहती है
इस बीच कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने आगामी लोकसभा चुनाव ना लड़ने का फैसला किया है। पवार ने महाराष्ट्र के पुणे में एक चुनावी कार्यक्रम के दौरान यह ऐलान किया है। उल्लेखनीय है कि एनसीपी इस बार फिर कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है।
महाराष्ट्र के सबसे कद्दावर नेताओं में शुमार पवार फिलहाल महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार पिछली यूपीए सरकार में कृषि मंत्रालय के साथ-साथ उपभोक्ता, खाद्य एवं पीडीएस मंत्री भी रह चुके हैं। पवार 1991 से 2009 तक वे महाराष्ट्र के बारामती से लोकसभा सांसद रहे हैं। 48 लोकसभा सीटों वाले महाराष्ट्र में 2014 में उनकी पार्टी ने 21 सीटों पर चुनाव लड़ा था, लेकिन महज चार सीटों पर जीत मिली थी। वहीं इस चुनाव में उसकी गठबंधन की साथी कांग्रेस ने 26 सीटों पर चुनाव लड़ा था लेकिन महज दो ही सीटें जीत पाई थीं।
2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले केई ऐसे मुद्दे है जिनपर विफक्ष आमने सामने हो सकता है, और यह मुद्दे लोकसभा चुनाव के नातीजे तय कर सकते है.