244 Views

शनिवार, 8 फरवरी 2020

प्रेस विज्ञप्ति

 विकासशील राज्य शोध केंद्र, दिल्ली विश्वविद्यालय

डीसीआरसी समीक्षा: दिल्ली 2020

दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण परिणाम, 2020

   विकासशील राज्य शोध केंद्र, दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा हाल ही में हुए दिल्ली विधानसभा चुनावों के अध्ययन हेतु एक योजनाबद्ध, वैज्ञानिक और सोद्देश्यात्मक सर्वेक्षण सम्पन्न किया गया। केंद्र अपनी विशिष्ट पद्धति के आधार पर किये गए सर्वेक्षण अध्ययन द्वारा दिल्ली में सम्पन्न हुए विधानसभा चुनावों के में आम आदमी पार्टी की जीत का अनुमान लगाता है।

केंद्र द्वारा चुनावी परिणाम का यह रुझान 1-6 फरवरी 2020 के दौरान दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं के लगभग 103,731 मतदाताओं के नमूनों पर किए गए अध्ययन पर आधारित है। 1-6 फरवरी के दौरान दिल्ली विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों और महाविद्यालयों के लगभग 30 शिक्षकों व 500 विद्यार्थियों व शोधार्थियों द्वारा 14 समन्वयकों के निर्देशन में दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं के मतदाताओं के आंकड़ों का एक-पृष्ठीय सरल प्रश्नावली के माध्यम से संकलन किया गया।

 

डीसीआरसी के निदेशक प्रो॰ सुनील चौधरी दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण के अध्ययन के परिणामों तथा सर्वेक्षण अध्ययन की योजना प्रारूप और क्रियान्वयन संरचना पर चर्चा करते हुए इसे एक बड़े प्रयास की संज्ञा देते हैं। दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण अध्ययन की रूपरेखा को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से नियमित कार्यशालाओं का आयोजन केंद्र द्वारा किया गया, जिसके माध्यम से सर्वेक्षकों को प्रशिक्षित करने के साथ-साथ चुनाव सर्वेक्षण की बारीकियों व चुनौतियों से अवगत कराया गया।

 

केंद्र द्वारा सम्पन्न समीक्षा-2020 दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण के विस्तृत परिणामों का ब्योरा इस प्रकार है:

 विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण परिणाम : एक अवलोकन

राजनीतिक दल अनुमानित सीट मत प्रतिशत
आप 68 60.04%
बीजेपी+ 2 30.98%
काँग्रेस+ 0 6.74%
निर्दलीय/अन्य 0 2.24%
कुल योग 70 100%

 

संसदीय क्षेत्र के अनुसार विभिन्न राजनीतिक दलों की अनुमानित स्थिति

राजनीतिक दल पूर्वी दिल्ली उत्तर- पूर्वी दिल्ली पश्चिमी दिल्ली उत्तर-पश्चिमी दिल्ली दक्षिणी दिल्ली नई दिल्ली चाँदनी चौक
आम आदमी पार्टी 10 10 10 10 08 10 10
बीजेपी+ 0 0 0 0 02 0 0
काँग्रेस+ 0 0 0 0 0 0 0
निर्दलीय/अन्य 0 0 0 0 0 0 0
कुल योग 10 10 10 10 10 10 10

 

यद्यपि डीसीआरसी का अस्तित्व 1990 से है पर यह दिल्ली विश्वविद्यालय के सामाजिक-विज्ञान विभाग का अभिन्न अंग 2004 में बना। इसके माध्यम  से आज समाज-विज्ञान में समालोचनात्मक व सोद्देश्यात्मक शोध अध्ययनों हेतु एक सकारात्मक वातावरण व कार्य क्षेत्र का निर्माण हो रहा है। दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वेक्षण अध्ययन 2020 केंद्र का नवीनतम प्रयास है जो सामाजिक-विज्ञान में समालोचनात्मक, सोद्देश्यात्मक और वैज्ञानिक शोध पद्धति पर  आधारित अध्ययन करने का प्रयत्न करता है, जिसका प्रभाव न सिर्फ दिल्ली विश्वविद्यालय पर पड़ता है बल्कि यह देशभर के स्थानीय, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय विषयों पर भी प्रासंगिक प्रभाव डालता है। स्वतंत्र भारत के चुनावी इतिहास में यह पहला व एकमात्र चुनावी अध्ययन है जो भारत में किसी राज्य के विधानसभा चुनाव अध्ययन के लिए सभी 70 विधानसभाओं को इतने अधिक समूहों व 103,731 प्रतिदर्शों के आकार पर सम्पन्न हुआ है, साथ ही अपने परिणामों में वैज्ञानिक, व्यवहारिक व विश्वसनीय है।

 

धन्यवाद

शरद कुमार यादव (मीडिया समन्वयक)

+91- 9015658892

प्रो॰ सुनील के चौधरी

निदेशक