वाराणसी !  समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी तेज बहादुर यादव के वकील राजेश गुप्ता ने बातचीत के दौरान बताया कि हमारे मुवक्किल का नामांकन साजिशन रद्द किया गया . हमारे मुवक्किल को सेक्शन 9 और 33 के तहत नोटिस दिया गया था. जिसका हमने जवाब ही नहीं दिया, अपितु सम्बन्धी सभी डाक्यूमेंट भी जमा करा दिए।

लेकिन भाजपा नेता संबित पात्रा और रवि शंकर प्रसाद द्वारा मुख्य निर्वाचन आयुक्त से फोन करवा करके हमारे मुवक्किल का नामांकन रद्द करवा दिया गया. हम सारी घटनाओं का अध्ययन कर रहे हैं अगर राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का निर्देश होगा, तो हम कोर्ट में इसे चुनौती देंगे