124 Views

कोलकाता। एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा केन्द्र सरकार को आड़े हाथ लेते हुए हमला बोला। प्रवासी मजदूरों की मौत का डेटा नहीं होने पर अभिषेक ने की केंद्र की निंदा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रियों के भाषण जुमलों से ज्यादा कुछ नहीं है। इसे लेकर अभिषेक ने ट्वीटर पर लिखा कि प्रवासियों की मौत या उनकी नौकरियां जाने का कोई ठोस आंकड़ा केंद्र के पास नहीं है।

पीएम मोदी और उनके मंत्रियों के भाषण केवल जुमले हैं। क्या कभी आपकी अमानवीयता का अंत होगा? वैसे आज केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने लोकसभा को बताया कि सरकार के पास उन प्रवासियों का आंकड़ा नहीं है जो लॉक डाउन के कारण अपने मूल स्थानों पर लौटते समय मारे गए या घायल हो गए।

उल्लेखनीय है कि कोरोना रोग के प्रसार को रोकने के लिए 25 मार्च को देशव्यापी लॉक डाउन लागू किया गया था। लॉक डाउन के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों के अपने मूल स्थानों पर पलायन हुए थे। इस दौरान कई लोगों की मौत हुई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रियों के भाषण जुमलों से ज्यादा कुछ नहीं है। इसे लेकर अभिषेक ने ट्वीटर पर लिखा कि प्रवासियों की मौत या उनकी नौकरियां जाने का कोई ठोस आंकड़ा केंद्र के पास नहीं है। पीएम मोदी और उनके मंत्रियों के भाषण केवल जुमले हैं। क्या कभी आपकी अमानवीयता का अंत होगा?