कोलकाता। गृहमंत्री अमित शाह ने आज की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जोरदार हमला किया और 200 से अधिक सीटों के साथ राज्य में बीजेपी की सरकार बनाने का दावि किया है। राज्य के दौरे पर आये केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महानगर कोलकाता में मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए कहा, ‘पश्चिम बंगाल चैतन्य महाप्रभु, ठाकुर रामकृष्ण परमहंस, विवेकानंद की भूमि है. तुष्टिकरण की राजनीति ने राज्य की परंपरा को चोट पहुंचाई है. मैं बंगाल की जनता का आह्वान करता हूं कि आध्यात्मिक और धार्मिक चेतना का केंद्र रहा बंगाल अपना गौरव फिर से प्राप्त करे, इसीलिए आप जागरूक होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें।
अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी ने प्रशासन का राजनीतिकरण कर दिया है, राजनीति का अपराधीकरण कर दिया तो भ्रष्टाचार को संस्थागत कर दिया है। उन्होंने कहा कि टीएमसी कैडर ने साइक्लोन और कोरोना महामारी में सहायता वितरण में भी भ्रष्टाचार किया। टीएमसी सरकार पर तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए गृहमंत्री ने कहा कि बंगाल में कई लोगों के मन में दूसरी श्रेणी के नागरिक होने की भावना है। उन्होंने कहा, ”बंगाल में तीन तरह के कानून हैं, भतीजे के लिए अलग, अपने वोट बैंक के लिए अलग, आप समझ ही रहे होंगे कि मैं क्या कह रहा हूं, और जनता के लिए अलग कानून है।
5 साल में सोनार बांग्ला बनाने का वादा करते हुए गृहमंत्री ने राज्य में बीजेपी को एक मौका देने की अपील की। बीजेपी राज्यों में महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर ममता बनर्जी के आरोपों पर जोरदार पलटवार करते हुए अमित शाह ने बंगाल के आकंड़े गिनाए। उन्होंने कहा, ”मैं ममता दीदी से सवाल करता हूं- 2018 के बाद आपने एनसीआरबी को आपके राज्य के गुनाह के आकंड़े क्यों नहीं दिए हैं? क्या छिपाना है और क्यों छिपाना है? बंगाल की जनता जानना चाहती है कि यहां कानून की स्थिति क्या है। 2018 के आंकड़े हैं मेरे पास। महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले में तीसरे नंबर पर बंगाल रहा, बलात्कार और एसिड अटैक के मामले में पहले नंबर पर रहा। महिलाओं के गायब होने के मामले में दूसरे नंबर पर था।
महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों में सजा दिलाने में बंगाल का औसत 5 फीसदी था जबकि राष्ट्रीय औसत 23 फीसदी था।” गृहमंत्री ने कहा कि राजनीतिक हत्याओं के मामले में बंगाल सबसे आगे है। पिछले एक साल में 100 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है, लेकिन क्या कार्रवाई की गई? प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अमित शाह ने कहा कि घुसपैठ बेरोकटोक चल रही है। जिस देश-राज्य की सीमाएं सुरक्षित ना हों, उसके विकास का कोई मतलब नहीं है। मोदी जी ने बंगाल के विकास के लिए बहुत काम किया है। शाह ने कहा, ”बंगाल में ऐसी सरकार ला दीजिए जो मोदी जी की योजनाओं को जनता का पहुचाए।
प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के तहत 7 करोड़ लोगों को 5 लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त दे रही है। लेकिन बंगाल के एक भी व्यक्ति को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत देशभर के किसानों को 95 हजार करोड़ रुपए मिले हैं, लेकिन बंगाल में किसानों को यह लाभ नहीं मिला है। मैं बंगाल के किसानों से कहना चाहता हूं कि मई के बाद आपके अकाउंट में यह पैसा आएगा, क्योंकि तब यहां बीजेपी की सरकार होगी।”