मीडिया की कुछ खबरों में कहा गया था कि पणजी स्थित राजकीय कला अकादमी में शनिवार को उस स्थान का शुद्धिकरण किया गया, जहां पर्रिकर के पार्थिव शरीर को रखा गया था। इस पर गोवा सरकार ने दिवंगत मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से जुड़े ‘शुद्धिकरण’ मामले की जांच के आदेश दिए हैं।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी यहीं पर पर्रिकर को आखिरी विदाई दी थी।

इस मामले में गोवा के कला एवं संस्कृति मंत्री गोविंद गावड़े ने समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा को बताया कि उन्होंने मीडिया द्वारा दी गई उन खबरों के आधार पर जांच के आदेश दिए हैं, जिनमें कहा गया था कि अकादमी परिसर में कुछ व्यक्तियों ने उस जगह का शुद्धिकरण कराया था, जहां मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर रखा गया था।