128 Views

कोलकाता। कभी कभी आदमी के कद के सामने सपने इतने बड़े लगने लगते है कि सपने ही मौत की वनवे गली म भेज देते है। महानगर कोलकाता स्थित अम्हर्स्ट स्ट्रीट पुलिस क्वार्टर्स से एक किशोरी आद्रीजा मंडल ने छलांग लगा कर खुदकुशी कर ली। कहा जा रहा है कि मृत छात्रा आइपीएस बनने के सपने देख रही थी और उसपर यह दबाव इतना ज्यादा बन गया था कि उसने अपनी जान दे दी।

पुलिस व स्थानीय लोगों ने बताया कि आज दोपहर के समय अचानक पुलिस क्वार्टर में किसी भारी चीज के गिरने की आवाज आई। मौके पर पहुंचे लोगों ने देखा कि किशोरी रक्त रंजित हालत में पड़ी हुई है। उसे तुरंत उठाकर अस्पताल में ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृत 13 वर्षीय छात्रा के पिता कोलकाता पुलिस के सब इंस्पेक्टर हैं और लालबाजार में तैनात है।

घटना स्थल से पुलिस को जो आत्महत्या विषयक नोट मिले है, उनमें कक्षा सातवी की उक्त छात्रा ने लिखा है कि उसके उपर आइपीएस बनने का दबाव था।  वैसे छात्रा ने किस वजह से खुदकुशी की है पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। सीसीटीवी फुटेज भी देखा जा रहा है।पुलिस को मृत आद्रीजा मंडल के जो कथित आत्महत्या विषयक नोट मिले है उनमें कक्षा सातवी की छात्रा ने काफी मार्मिक बातों को दर्ज किया है।

आत्महत्या विषयक नोट में लिखा है कि , “जब यह पत्र आप लोगों को मिलेगा तब तक मेरी मौत हो चुकी होगी। मैं आप सभी से बेहद प्यार करती हूं। मेरी मौत का कारण अवसाद है। बहुत कोशिश करने के बावजूद मेरे परीक्षा परिणाम अच्छे नहीं रहें। मैं यह सोचकर बहुत खुश हूं कि मैं मौत की ओर आगे बढ़ रही हूं, मतलब मै मर चुकी हूं। लेकिन दुख की बात है कि मैं एक आइपीएस नहीं बन सकी। मुझे अपने फैसले पर खेद है। सबको धन्यवाद। अलविदा। “