96 Views

वॉशिंगटन, 1 अक्टूबर 2019, (आरएनआई)। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने तीन दिनों के अमेरिका दौरे पर आज अमेरिकी समकक्ष माइक पोंपेयो से मुलाकात की है।

विदेश मंत्री जयशंकर ने पोंपेयो के साथ मुलाकात में अमेरिका को कड़ा संदेश देते हुए रूस से एस-400 एयर डिफेंस सिस्‍टम खरीद के सिलसिले में स्‍पष्‍ट कह दिया है कि रूस से हथियार खरीदने के मामले में कोई हमें आदेश करे, यह बात हरगिज नापसंद है। भारत अपने फैसले पर अडिग है। मिलिट्री उपकरण खरीद पर वह टस से मस नहीं होगा।

उन्‍होंने कहा, हमने हमेशा इस बात को कायम रखा है कि हम जो भी खरीदते हैं, मिलिट्री उपकरण, वह हमारा संप्रभु अधिकार है। जयशंकर ने आगे कहा, हम अपनी इच्‍छा के मुताबिक मिलिट्री उपकरण खरीदने के लिए आजाद हैं और हमें लगता है कि इस बात को समझना यह हर किसी के हित में है।

जयशंकर के इस संदेश को एक अहम कूटनीतिक कदम के तौर पर देखा जा रहा है। वहीं जयशंकर ने यह बात उस समय कही जब वह पोंपेयो के साथ मुलाकात कर रहे थे और एस-400 की डील को लेकर अमेरिकी चिंताओं पर चर्चा हो रही थी। जबकि एस जयशंकर की अब रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर से मुलाकात होगी।