186 Views

नई दिल्ली, 21 सितंबर 2019, (आरएनआई)। नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने शुक्रवार को कहा कि सरकार निजी क्षेत्र को बढ़ावा देने और सालाना आठ फीसदी वृद्धि दर हासिल करने के लिये प्रतिबद्ध है। चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर छह साल के न्यूनतम स्तर पांच फीसदी जाने को लेकर निराशा के बीच उन्होंने यह बात कही।

कुमार ने कॉर्पोरेट कर में कटौती के सरकार के निर्णय की सराहना की है। उन्होंने भरोसा जताया है कि निवेशक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित उपायों का लाभ उठाएंगे। पब्लिक अफेयर्स फोरम ऑफ इंडिया (पीएएफआई) द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान अलग से बातचीत में कुमार ने कहा कि वित्त मंत्री ने घोषणा की है कि एक अक्टूबर 2019 या उसके बाद बनने वाली कंपनियों के विनिर्माण क्षेत्र में नये निवेश करने पर उपकर और अधिभार समेत प्रभावी कर की दर केवल 17.01 फीसदी है। यह बड़ा प्रोत्साहन है।

उन्होंने उम्मीद जताई कि निवेशक इन उपायों का लाभ उठाएंगे और जो किनारे पर खड़े होकर इंतार कर रहे थे, वे निवेश के लिये आगे आएंगे। कुमार ने कहा, ‘‘मुझे लगता यह है कि यह ऐतिहासिक दिन है। यह निजी क्षेत्र को बढ़ावा देने की सरकार की प्रतिबद्धता को बताता है।

उन्हें भरोसा है कि निजी क्षेत्र उद्योग को आगे ले जाएगा जिससे अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी।’’ उन्होंने कहा,‘‘उद्योग का मानना है कि दहाई अंक में वृद्धि न केवल प्राप्त किया जा सकता है बल्कि जरूरी है। अत: आठ फीसदी वृद्धि दर हासिल करना आसान है।’’