221 Views

लखनऊ, 10 नवंबर 2019, (आरएनआई )। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या विवाद पर बीते शनिवार को दिए ऐतिहासिक फैसले के बाद द्वारिकापीट के शंकराचार्य स्‍वामी स्‍वरूपानंद सरस्‍वती का बयान सामने आया है।

स्‍वरूपानंद सरस्‍वती ने फैसले पर नाखुशी जाहिर करते हुए कहा है कि मस्जिद के लिए वैकल्पिक जगह पर 5 एकड़ जमीन देने के निर्देश से झगड़े होंगे। इससे पहले एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी भी फैसले के तहत 5 एकड़ जमीन दिए जाने के फैसले से खुश नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हिंदुओं के हित में फैसला देना तो सही है, लेकिन जब प्रामाणित हो गया कि विवादित जगह हिंदुओं की है तो मुस्लिमों को जमीन देना गलत है। साथ ही नया ट्रस्ट बनाने का आदेश भी उचित नहीं है।

गौरतलब है सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में विवादित को रामलला विराजमान को दी है। जबकि मुस्लिम पक्ष को अलग स्थान पर जगह देने के लिए कहा गया है। कोर्ट ने अयोध्या में ही मस्जिद बनाने के लिए अलग जगह जमीन देने का आदेश दिया है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को एक नया ट्रस्ट बनाने का भी आदेश दिया है जिसे वह जमीन मंदिर निर्माण के लिए दी जाएगी।