माल्दा/कोलकाता। पंचायत चुनाव को लेकर जिस तरह से इस राज्य में खून खराबा हुआ था इसे सब जानते है। ठीक लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के बाद से राज्य भर में राजनीतिक तनातनी व हिंसा का दौर शुरू हो गया है। आज सुबह माल्दा जिले के दौलताबाद इलाके में भाजपा नेता के भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। मृतक की पहचान पतनु मंडल (28) के तौर पर हुई है। उनके बड़े भाई का नाम उत्पल मंडल है जो पिछले साल संपन्न हुए पंचायत चुनाव में भाजपा के टिकट पर जीत दर्ज किए थे।

उन्होंने बताया कि सुबह के समय उनके भाई घर के पास खड़े थे तभी बाइक सवार नकाबपोश हमलावरों ने काफी करीब से उन्हें गोली मार दी। उत्पल ने बताया कि वह पिछले साल संपन्न हुए पंचायत चुनाव में ग्राम पंचायत उम्मीदवार के तौर पर जीते थे। उसके बाद से लगातार तृणमूल संरक्षित अपराधी उन्हें और उनके परिवार को धमकियां दे रहे थे। इस हत्या के पीछे भी तृणमूल का ही हाथ है।

लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा के प्रचार-प्रसार में वह शामिल ना हो सकें, इसलिए उनके भाई की हत्या की गई ताकि बाकी लोग डर जाएं। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है। हमलावरों की तलाश तेज कर दी गई है। इस घटना के बाद से इलाके में तनाव कायम हो गया है और लोगों का कहना है जब अगाज इतना भयावह है तो अंजाम क्या होगा।