कोलकाता। राज्य में लोकसभा चुनाव की तारीख का ऐलान भी नहीं हुआ है लेकिन अघोषित तौर पर खूनी राजनीति उफान पर रही। बिते चौबीस घंटों में कुलतली व बहरमपुर में गोली मार कर तृणमूल के एक नोता व एक कर्मी की हत्या की घटना से राज्य में तमाम सवाल खड़े हों गये है। पुलिस व लोगों ने बताया कि दक्षिण 24 परगना जिले के कुलतली थानांतर्गत जालाबेड़िया इलाके में रविवार रात एक तृणमूल कर्मी सुरत मंडल(45) की कुछ लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

बताया जा रहा है कि रविवार रात सुरत जालाबेड़िया के एक चाय की दुकान में चाय पी रहे थे। चाय दुकान से जैसे ही सुरत बाहर निकले, उसी समय दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर कुल छह लोग आये और उन्हें गोली मार दी।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुरत को एक के बाद एक तीन गोलियां मारी गयी जिनमें दो गोलियां सुरत के शरीर में लगी। रक्त रंजित हालत में सुरत मौके पर ही गिर पड़े। आशंकाजनक हालत में सुरत को कुलतली के जामतल्ला अस्पताल लेकर जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद से इलाके में तनाव है।

घटना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। कुलतली ब्लॉक के तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश मंडल ने बताया कि सुरत स्थानीय तृणमूल युवा कांग्रेस का सदस्य था। वहीं पुलिस का कहना है कि सुरत के खिलाफ कुलतली और जयनगर थाने में कई गम्भीर मामले दर्ज हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार मृतक के कान और छाती में दो गोलियां लगी हैं। इलाके में तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बलों को तैनात किए गए हैं। पुलिस हमलावरों के तलाश में जुटी है।

दूसरी घटना मुर्शिदाबाद के बहरमपुर स्थित नियालीपिपारा इलाके में घटी। जहां बदमाशों ने तृणमूल नेता नजमुल शेख (42) की गोली मारकर हत्या कर दी। वह स्थानीय ग्राम पंचायत का तृणमूल युवा का अध्यक्ष था। मृतक मसुरुंडा का निवासी था। युवा तृणमूल नेता नजमुल शेख स्थानीय बीबी ग्राम पंचायत सदस्य व कपड़े का व्यवसायी था।

आरोप है कि गुजरे पंचायत चुनाव के बाद से ही इलाके में तनाव पसरा हुआ था। नजमुल आज सुबह दस बहरमपुर से नाव में चढ़ा और नियासीपाड़ा फेरी घाट पर जैसे ही उतरा अचानक ही तीन बदमाशों ने उसके उपर दनादन गोलिया बरसानी शुरु कर दी और फिर दो पहिए से बाग गये। नजमुल के सीने मेंदो गोलियां लगी और उसे मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले कर आने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उक्त घटना के बाद से इलाके में तनाव है।