95 Views

अमेठी, 19 सितंबर 2019, (आरएनआई)। राजनैतिक सामाजिक कार्यकर्ता शशिकांत तिवारी ने आज कहा कि अमेठी के लोगों को कोई असुविधा न हो जनता के हितों को सर्वोपरि रखकर मेडिकल कॉलेज की स्थापना होनी चाहिए

श्री तिवारी ने कहा कि रायबरेली में एम्स की स्थापना हुई है तिलोई में 200 बेड का अस्पताल,जगदीशपुर मे ट्रामा सेंटर और अब वही पर मेडिकल कालेज खोलना उचित नही है यह अमेठी की लाखो जनता के साथ भेदभाव होगा

श्री तिवारी ने कहा कि जिंमेदार लोगो को बिना भेदभाव के सोचना चाहिए कि रामगंज,भादर भी इसी जिले का हिस्सा है वहा के लोगो को गौरीगंज पहुचने के लिए भी 50 किलो मीटर की दूरी तय करनी पडती है इस लिए सभी के हितो को ध्यान मे रख कर जिले के मध्य मे मेडिकल कालेज की स्थापना होनी चाहिए

श्री तिवारी ने कहा कि वे किसी भी कीमत पर जनता के हितो के साथ खिलवाड नही होने देगे इसके लिए हर लडाई को लडेगे। वारिसगंज मुसाफिरखाना जामों रानीगंज नंद महर बड़ागांव अलीगंज के लोगों के लिए तिलोई बहुत दूर पड़ेगा यदि जिला मुख्यालय पर मेडिकल कॉलेज नहीं बनता तिलोई में बनता है तो उसका जनपद वासियों को कोई लाभ नहीं मिलेगा इससे अच्छा तो ना ही बने

उल्लेखनीय है कि मेडिकल कालेल गौरीगंज मे स्थापित करने की मांग के संबध मे अनुरोध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एंव सांसद अमेठी स्मृति ईरानी को भेजा जा चुका है जिला मुख्यालय गौरीगंज में मेडिकल कॉलेज बनने से संपूर्ण जनपद वासियों को इसका भरपूर लाभ मिलेगा क्योंकि कहीं न कहीं से यह मध्य में पड़ता है ।