66 Views

बीजेपी को अब कांग्रेस को मजबूत करने पर ध्यान देना चाहिए। अगर कांग्रेस मजबूत रहेगी तभी क्षेत्रीय पार्टियों के वोट काटेगी और तभी बीजेपी जीतेगी। कांग्रेस युक्त भारत ही बीजेपी के लिए अच्छी है। वरना जिस तरह से धीरे धीरे क्षेत्रीय पार्टियों ने कांग्रेस को खत्म किया उसी तरह से बीजेपी को भी खा जाएंगी।बीजेपी को गलतफहमी रही है कि उसने कांग्रेस को हाशिये पर ला कर खड़ा किया है।

आप देख लीजिए जहां भी क्षेत्रीय पार्टियां बहुत मजबूत हैं वहां कांग्रेस का नामो निशान नहीं है। लोकसभा चुनावों में दिल्ली में कांग्रेस दूसरी पार्टी बन कर उभरी थी और आम आदमी पार्टी तीसरे स्थान पर खिसक गई थी । परिणाम ये हुआ कि बीजेपी सातों सीट ले गई । इस बार विधानसभा चुनावों में कांग्रेस महज 4 प्रतिशत वोट ही ले पाई।

कांग्रेस के पास ज्यादा वोट होते तो वो सारे वोट वो आम आदमी पार्टी से ही खींचती ।ऐसे में 40 प्रतिशत वोट लाने वाली बीजेपी आम आदमी पार्टी को कड़ी टक्कर देती । लक्ष्मीनगर विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार नीतिन त्यागी 880 वोट से इसलिए बीजेपी से हारे क्योंकि वहां कांग्रेस के उम्मीदवार को 4 हजार से ज्यादा वोट्स मिले। बीजेपी के लिए कांग्रेस को स्पेस देना ही राजनैतिक रुप से ज्यादा समझदारी का फैसला है।